ALL 30
सीआरपीएफ ग्रुप समूह केंद्र में कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने से मचा हड़कंप
May 28, 2020 • रिटर्न विश्वकाशी न्यूज (आर वी न्यूज लाइव )

सीआरपीएफ ग्रुप समूह केंद्र में कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने से मचा हड़कंप

अंकित मलिक गौतमबुद्ध नगर

गौतमबुद्ध नगर ब्यूरो ग्रुप समूह केंद्र ग्रेटर नोएडा में 12 कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से अफसरों के पैरों तले जमीन की खिसकती हुई नजर आ रही है सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार पता चला कि ग्रुप समूह केंद्र सीआरपीएफ ग्रेटर नोएडा के डीआईजी राजेश कुमार यादव के निर्देश अनुसार प्रत्येक फैमिली क्वार्टर सुबह शाम सैनिटाइज किए जा रहे हैं प्रत्येक फैमिली मेंबर से लेकर जवान तक का टेंपरेचर प्रतिदिन लिया जा रहा है अधिकारियों द्वारा सभी फैमिली मेंबर को सख्त हिदायत देते हुए कहा गया है कि बिना मास्क लगाए बेवजह क्वार्टर से बाहर ना निकले सोशल डिस्टेंस का पालन करें दूध फल सब्जी इत्यादि से लेकर सभी सामान कॉपरेटिव कैंटीन के अंदर डीआईजी द्वारा उपलब्ध कराया गया है किसी भी फैमिली मेंबर या जवान को किसी भी प्रकार की समस्या होने नहीं दी जाएगी

तीसरी आंख ना होने का फायदा उठा रहे तीन नंबर गेटमैन

सीआरपीएफ ग्रुप समूह केंद्र ग्रेटर नोएडा गेट नंबर 1 वीआईपी गेट है जिस पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं वही आम नागरिक व फैमिली मेंबर के बाहर आने जाने वाले गेट नंबर 2 पर भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं लेकिन डीआईजी के निर्देश अनुसार कोविड 19 के चलते दोनों गेट बैरिकेडिंग लगाकर लॉक किए गए हैं उधर लखनावली चौराहे की दिशा में सूरजपुर की ओर सीआरपीएफ ग्रुप समूह केंद्र का 3 नंबर गेट है जिस पर तीसरी आंख का कोई पहरा ना होने के कारण वहां तैनात गार्ड कमांडर समेत आर पी बाहरी व्यक्तियों द्वारा फोन करके अपना सामान गुपचुप तरीके से मंगवा रहे हैं यदि डीआईजी राजेश कुमार यादव मामले को गंभीरता से देखते हुए गेट नंबर 3 पर सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था कराएं तो शायद जवानों की हर करतूत सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में पकड़ी जा सकती है बाहरी व्यक्ति मदिरा से लेकर अन्य सामान गेट नंबर 3 पर तैनात आरपी को बाहर से बाहर गुपचुप देकर बड़े आराम से निकल जाते हैं जिसकी अधिकारियों को भनक तक नहीं लगती ऐसे में जहां एक तरफ ग्रुप समूह केंद्र ग्रेटर नोएडा के अधिकारी कोविड 19 की महामारी के चलते फैमिली मेंबर व जवानों के बचाव में हर संभव प्रयास करने में जुटे हैं वहीं दूसरी तरफ गेट नंबर 3 पर सीसीटीवी कैमरा ना होना सबसे बड़ी चुनौती बना हुआ है