ALL 30
सैटेलाइट टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है एपल, यूजर्स को मिल सकता है फ्री इंटरनेट
December 21, 2019 • रिर्टन विश्वकाशी न्यूज (आर वी न्यूज )

सैटेलाइट टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है एपल, यूजर्स को मिल सकता है फ्री इंटरनेट

 

टेक्नोलॉजी की दिग्गज कंपनी Apple सैटेलाइट टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है। इसके लिए कंपनी ने कई सारे एयरोस्पेस इंजीनियरों की भर्ती हुई है। एपल की सैटेलाइट टेक्नोलॉजी टीम में सैटलाइट और एंटीना डिजाइनर्स शामिल हैं। इसका दावा ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में किया गया है।
 
ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक एपल का सैटेलाइट प्रोजेक्ट फिलहाल शुरुआती दौर में है और इसे लेकर काफी निजता बरती जा रही है। दूसरे शब्दों में कहें तो यह एपल का एक सीक्रेट प्रोजेक्ट है। एपल की इस सैटेलाइट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके यूजर्स एक-दूसरे के साथ बिना डाटा केबल हाई-स्पीड में डाटा शेयर कर सकेंगे। ऐसे में एपल को डाटा शेयरिंग के लिए किसी थर्ड पार्टी नेटवर्क पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा। 

ये भी पढ़ेंः iPhone 11 Review: बेहतर कैमरे वाला आईफोन XR


रिपोर्ट में कहा गया है कि एपल पूरी तरह से किसी सैटेलाइट पर काम नहीं कर रही है, बल्कि एक ऐसी ट्रांसमिशन डिवाइस को तैयार करने में लगी है जिसके जरिए डाटा आसानी से शेयर किए जा सकें। इस तकनीक के जरिए एपल डिवाइस में किसी भी जगह से डाटा भेजा जा सकेगा। साथ ही एपल की इस सैटेलाइट तकनीक से सटीक लोकेशन की भी जानकारी मिलेगी। 

कहा जा रहा है कि एपल ने सैटेलाइट इंडस्ट्री के कई महारथियों को इस प्रोजेक्ट में लगाया है जिसमें स्काईबॉक्स इमेजिंग पूर्व छात्र माइकल ट्रेला और जॉन फेनविक भी शामिल हैं और यही लोग टीम को लीड कर रहे हैं। बता दें कि इन दोनों ने इससे पहले गूगल के सैटेलाइट और स्पेसक्राफ्ट टीम को लीड कर चुके हैं।
 
इन दोनों के अलावा एपल की सैटेलाइट टेक्नोलॉजी टीम में पूर्व एयरोस्पेस कॉर्पोरेशन के कार्यकारी एशले मूर विलियम्स, साथ ही वायरलेस नेटवर्किंग और सामग्री-वितरण नेटवर्क उद्योगों के प्रमुख कर्मचारी शामिल हैं। एपल की इस टेक्नोलॉजी का मकसद अंतरिक्ष से सीधे तौर पर डाटा नेटवर्क उपलब्ध कराना है। हालांकि एपल ने इस रिपोर्ट पर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है।