ALL 30
जिले में एक साथ 4 नये कोरोना पॉजिटिव का मामला बैढ़न ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर (बीएमओ) सहित 3 अन्य  कोरोना संक्रमित
July 8, 2020 • रिटर्न विश्वकाशी न्यूज (आर वी न्यूज लाइव )

जिले में एक साथ 4 नये कोरोना पॉजिटिव का मामला बैढ़न ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर (बीएमओ) सहित 3 अन्य  कोरोना संक्रमित

जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय संवाददाता करुना शर्मा

मध्य प्रदेश जिला सिंगरौली रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) व्यूरो न्यूज- जिले में 1 ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर समेत उसके परिवार के 4 लोगों की कोरोनावायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है जो ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं वह इस दौरान लगातार अस्पताल में काम करते रहे मरीज देखते रहे और लोगों से अधिकारियों से मिलते जुलते भी रहे इस वजह से संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा बना हुआ है सीएमएचओ से मांगी छुट्टी, नहीं मिलने पर गए बलिया,इस मामले में एक दर्जन से ज्यादा लोगों के सैंपल लिए गए हैं खबरों में यह भी बताया जा रहा है कि ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर की पत्नी और उनके दो रिश्तेदार भांजे और भांजी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं हैं इनके बारे में बताया जा रहा है कि यह ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर अपने पूरे परिवार के साथ उत्तर प्रदेश के बलिया में एक तिलक समारोह में शामिल होने के लिए पहुंचे थे इस दौरान यह भी बताया जा रहा है कि जब यह मेडिकल ऑफिसर बलिया गए तो उन्होंने शासकीय तौर पर कोई अवकाश नहीं लिया और अपने वरिष्ठ अधिकारियों से अपनी यह ट्रैवल्स हिस्ट्री छुपाई क्योंकि ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर को इस बात का डर था कि अगर उनको विभाग से छुट्टी लेंगे तो उन्हें कोरेंटिन होना पड़ेगा 14 दिनों के लिए तो इस दौरान वह मरीजों को देख नहीं पाएंगे और अपनी बीएमओ गिरी बचाने के लिए इन्होंने पूरे स्वास्थ्य महकमे को मुसीबत में डाल दिया है

क्या होगी इनके ऊपर बड़ी कार्यवाही

अब देखने वाली बात यह होगी कि जिस तरह से कलेक्टर ने ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीबद्ध किया है जो कोरंटिन होने के बाद बाहर घूम रहे थे या अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छुपा रहे थे तो अब क्या ऐसे लापरवाह ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर के खिलाफ भी कलेक्टर एक्शन लेंगे क्या इनके खिलाफ भी एफ आई आर दर्ज होगी और क्या इनकी इस लापरवाही पर इनके ऊपर जांच बैठाई जाएगी

पत्नी के सैंपल पर लिखवा दिया नौकरानी और उसके बच्चों का नाम !

फिलहाल इनके कोरोनावायरस रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद पूरे महकमे में हड़कंप मचा हुआ है क्योंकि इस दौरान यह भी बताया जा रहा है कि यह एक सैकड़ा से ज्यादा लोगों के संपर्क में आए हैं ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर की लापरवाही यही तक नहीं है इसमें यह जानकारी भी मिली है कि जब इनके परिवार में इनकी पत्नी की तबीयत खराब हुई इनके बच्चों की तबीयत बिगड़ने शुरू हुई तो इन्होंने बच्चों के कोरोना सैंपल दिए और अपनी पत्नी का सैंपल दिया लेकिन इसमें इनके घर में काम करने वाली नौकरानी के नाम सैंपल में दर्ज करवाए गए और बच्चों की जगह नौकरानी के बच्चों के नाम सैंपल भेजे गए ! लेकिन जब कोरोनावायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई और स्वास्थ्य महकमा इन्हें कोरंटिन के लिए पहुंचा तब इस बात का खुलासा हुआ कि नौकरानी को नहीं है बल्कि इनका खुद का परिवार कोरोना वायरस पॉजिटिव निकला है