ALL 30
होली के जुलूस में मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर अलर्ट, सीसीटीवी, ड्रोन की मदद से की जाएगी निगरानी
February 28, 2020 • रिटर्न विश्वकाशी न्यूज (आर वी न्यूज लाइव )

होली के जुलूस में मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर अलर्ट, सीसीटीवी, ड्रोन की मदद से की जाएगी निगरानी

सार

- खुफिया एजेंसियों ने जताई आशंका, लखनऊ ने जुलूस मार्ग पर होने वाली सुरक्षा के इंतजाम की रिपोर्ट मांगी
- जुलूस मार्ग पर मौजूद सभी दुकानदारों के नाम, पते के साथ ही कर्मचारियों का ब्योरा जुटाने में लगी पुलिस
- छतों पर पत्थर, ईंट तलाश रही पुलिस, दुकानदारों की मदद से कैमरे लगाने की भी कोशिश शुरू
 

विस्तार

होली के जुलूस में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शामिल होने को लेकर खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी कर दिया है। एक बार फिर उन्हें खतरे की आशंका जाहिर करते हुए आईबी, एलआईयू ने रिपोर्ट दी है। इसे देखते हुए पुलिस अफसर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद करने में जुटे गए हैं।
 
जिन रास्तों से मुख्यमंत्री का काफिला गुजरेगा उन रास्तों की सभी दुकानों के मालिकों और कर्मचारियों के नाम, पते पुलिस जुटा रही है। उधर, लखनऊ ने मुख्यमंत्री के सुरक्षा इंतजाम की पूरी फाइल तलब कर ली है। सुरक्षा में कोई चूक न होने पाए इसे लेकर रिहर्सल भी कराने का फैसला किया गया है। जुलूस मार्ग और घरों की छतों की सीसी टीवी, ड्रोन की मदद से निगरानी भी की जाएगी।

होली पर घंटाघर से हर साल निकलने वाले जुलूस में इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वर्षों से शामिल होते आए हैं। उत्पाती इसी जुलूस के दौरान माहौल बिगाड़ने की साजिश रच सकते हैं। इसको देखते हुए जुलूस मार्ग के घरों पर पुलिस की तैनाती तो होगी ही, वहां पर ईंट-पत्थर की जांच पुलिस ने अभी से शुरू कर दी है। यह जांच आखिरी दिन भी की जाएगी।

मुख्यमंत्री के जुलूस से पहले रिहर्सल की जाएगी। जिसमें वैसे ही व्यवस्था की जाएगी जैसे मुख्यमंत्री की मौजूदगी के समय होगी। ऐसा करके पुलिस अफसर अपनी व्यवस्था का जायजा लेंगे। सुरक्षा में कोई चूक न होने पाए इसके लिए अफसर खुद रिहर्सल में शामिल होंगे।

इसके अलावा नेपाल सीमा पर भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। एसएसबी के साथ ही पुलिस कर्मचारियों को अफसरों ने सतर्क किया है। इसके अलावा जिले में पुलिस कर्मचारियों की छुट्टी होली तक रद्द कर दी गई है।