ALL 30
दिल्ली हिंसाः पुलिस का खुलासा, ताहिर के परिचित थे गोली चलाने वाले, 10 ज्यादा की हुई पहचान
March 6, 2020 • रिटर्न विश्वकाशी न्यूज (आर वी न्यूज लाइव )

दिल्ली हिंसाः पुलिस का खुलासा, ताहिर के परिचित थे गोली चलाने वाले, 10 ज्यादा की हुई पहचान

आम आदमी पार्टी (आप) के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के घर की छत से तीन लोग गोलियां चला रहे थे। पुलिस की जांच में गवाहों ने यह बात कही है। खजूरी खास थाने में तैनात सिपाही समेत चार लोगों ने ताहिर हुसैन के खिलाफ बयान दिए हैं। 

पुलिस की जांच में यह भी खुलासा हुआ है कि ताहिर के घर की छत पर ज्यादातर लोग उसके परिचित ही थे। ताहिर ने पांच से छह दंगाइयों की पहचान की है। कुछ की पहचान वीडियो से हुई है। अब तक 10 से ज्यादा दंगाइयों की पहचान हो चुकी है।

अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ताहिर हुसैन पूछताछ में यही बात कह रहा है कि वह दंगों को रोक रहा था। दंगाइयों को शांत कर रहा था। ताहिर ने पूछताछ में बताया है कि उसने 24 फरवरी को घर छोड़ दिया था। हालांकि वह 27 फरवरी तक जाफराबाद में एक जान-पहचान वाले के पास ही रहा था। 27 फरवरी को उसने जाफराबाद छोड़ दिया और वह जामिया नगर के जाकिर नगर पहुंच गया। जाकिर नगर में वह एक रिश्तेदार के घर में छिपकर रहा था। पुलिस उसका मोबाइल बरामद नहीं कर पाई है। उसने कहा मोबाइल परिवारवालों को दे दिया था। ताहिर की पत्नी, तीन बच्चे व माता-पिता भी फरार हैं। ताहिर हुसैन ने दावा किया कि उसे परिजनों के बारे में कुछ पता नहीं है।

अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ताहिर हुसैन के पास लाइसेंसी पिस्टल है। पुलिस को आशंका है कि दंगों के दौरान ताहिर हुसैन की पिस्टल से गोली चलाई गई थीं। इसकी जांच चल रही है। ताहिर हुसैन का कहना है कि पिस्टल उसने अपने किसी परिचित को दे रखी है। उसने करीब दो वर्ष पहले पिस्टल का लाइसेंस लिया था। पुलिस ताहिर हुसैन को रिमांड पर लेकर पिस्टल व मोबाइल बरामद करने की कोशिश करेगी। 

इलाके में सबसे ऊंचा है मकान
ताहिर हुसैन का मकान इलाके में सबसे ऊंचा है। इस कारण दंगाइयों को यहां से पत्थर, पेट्रोल बम व एसिड फेंकने में आसानी हुई। इसी कारण पड़ोस के घर में बन रहा शादी का खाना बर्बाद हो गया था। यहां से पेट्रोल बम फेंकने के कारण पड़ोस के घर में आग लग गई थी। अपराध शाखा के अधिकारियों के अनुसार, ताहिर पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा है। वह बार-बार यही कह रहा है कि वह तो दंगाइयों को शांत कर रहा था। उसने दावा किया कि दंगाई जबरदस्ती उसके घर में घुसे थे। इसके अलावा वह कुछ नहीं बता रहा है।